Best Romantic Heart Touching Love Poem in Hindi for Girlfriend,Boyfriend 2022

Best Romantic Heart Touching Love Poem in Hindi for Girlfriend,Boyfriend 2022 Heart Touching Love Poem in Hindi for Girlfriend, Deep Love Poems for Her in Hindi, Hindi, Romantic Poem for Girlfriend in English, Short Poem for Girlfriend in Hindi, Love Poems in Hindi for Boyfriend, Heart Touching Love Poems in Hindi English, Heart Touching Love Poem in Hindi for Boyfriend, Propose Poem for Girlfriend in Hindi रात पर रोमांटिक कविता, love poems in hindi for boyfriend, love poem in hindi for girlfriend, कविता हिंदी में लिखी हुई, बिछड़ना कविता, सबसे अच्छी कविता, प्रेमी के लिए कविता, शुद्ध हिंदी कविता Hindi Poem For Love | Love Kavita in Hindi | हिंदी प्रेम कविता 

Hindi Poem For Love – दोस्तों यहाँ पर आपको कुछ लोकप्रिय हिंदी प्रेम कविता दी गई हैं. यह सभी कविताएँ आपको प्रेम के बारे में एहसास कराती हैं. इस Love Kavita in Hindi की रचना जिन कवियों ने की हैं. आपको इनकी कविताओं को पढ़कर बहुत ही अच्छा लगेगा.

हम लोग अक्सर सुनते आए हैं. की प्रेम की कोई परिभाषा नहीं होती हैं. और विद्वानो का मत हैं, की प्रेम का एहसास इतना मीठा होता हैं की उसके आगे दुनिया की सभी मिठास फीकी लगने लगती हैं. कुछ लोगो का मानना हैं. प्रेम को समझना सभी की बस की बात नहीं हैं.

यह एक ऐसा एहसास हैं. की इसमें अचानक बादल भी गरजते हैं. तो अचानक शांति भी छा जाती हैं. इसमें अचानक खुशियों की बारिश होने लगती हैं. तो कभी अचानक आसुओं की जलधारा बहने लगती हैं. यह दुनिया का वह आनन्दायक एहसास हैं. जिसमे कभी कोई असमान में उड़ता हुआ महसूस करता हैं. तो कभी धराम से निचे गिरता हुआ महसूस करता हैं.

Best Romantic Heart Touching Love Poem in Hindi for Girlfriend,Boyfriend 2022

हिंदी प्रेम कविता, Hindi Poem For Love, Love Kavita in Hindi

 

1. Hindi Poem For Love

ना ही दिल बदला है मेरा,
ना ही मेरे ज़ज्बात बदले हैं!!
कुछ ऐसा शुरू हुआ ग़मों का दौर,
आज मेरे ये जो हालात बदलें हैं!!

एक रोज उनको सराहा था मेने,
चाहतों की हद से भी ज्यादा!
जिनको चाहा था मैंने,
मौसम के जैसे आज उनके खयालात बदले हैं,
ना ही दिल बदला है मेरा,
ना ही मेरे ज़ज्बात बदले हैं!!

निभाई है मेने रस्में कसमें वादे वफ़ा,
ना जाने फिर भी क्यों है वो मुझसे खफा!
किस-किस को दूँ में अपनी बेगुनाही,
हर रोज़ यहाँ उनके जो सवालात बदलें हैं!!
ना ही दिल बदला है मेरा,
ना ही मेरे ज़ज्बात बदले हैं!!

 

2. Love Kavita in Hindi
बात सिर्फ इतनी सी है तो क्यूँ है
उसे नहीं मुझसे मुहब्बत, मुझे अब तक क्यूँ है।।

हज़ारो जख्म है मुझमे जो उसकी निशानी है,
मुझे उसकी फिर भी ज़रुरत क्यूँ है
बात सिर्फ इतनी सी है तो क्यूँ है
उसे नहीं मुझसे मुहब्बत, मुझे अब तक क्यूँ है।।

वो जहाँ है वहां खुश है,
मुझे फिर भी उसकी इतनी फिकर क्यूँ है।।
बात सिर्फ इतनी सी है तो क्यूँ है
उसे नहीं मुझसे मुहब्बत, मुझे अब तक क्यूँ है।।

नहीं शामिल मैं उसकी आरजू में,
मेरे हाँथो में फिर उसकी लकीर क्यूँ है।।
बात सिर्फ इतनी सी है तो क्यूँ है
उसे नहीं मुझसे मुहब्बत, मुझे अब तक क्यूँ है।।

 

 

3. हिंदी प्रेम कविता
पहले इश्क को राख होने दीजिए,
फिर दिल को राख होने दीजिए!
तब जा कर पनपेगी मुहोब्बत,
जो भी हो बेहिसाब होने दीजिए!!

सजाएं मुक़र्रर करना इत्मिनान से,
मगर पहले कोई गुनाह होने दीजिए!
में भुला नहीं बस थोडा थक गया था,
लौट आऊंगा घर…शाम होने दीजिए!!

चाँद के दीदार की चाहत दिन में जगी है,
आएगा मजार वो, रात होने दीजिए!!

जो सरिताएँ सुख गई है इंतज़ार में,
वो भी भरेगी बस बरसात होने दीजिए!!

नासमझ, पागल, आवारा, लापरवाह है जो,
सम्हाल जाएँगे वो भी बस अहसास होने दीजिए!!

 

 

4. Hindi Prem Kavita
ज़िक्र तेरा मेरी बातों में होने लगा है
तेरा हर ख्वाब आँखों में रहने लगा है
सोचते हैं हर पल बस अब तेरे ही बारे में
कैसे कहूँ मुझे इश्क़ अब तुझसे होने लगा है
जब देखे वो मुझे आँखें भी मानो शर्मा सी जाती हैं
मेरी हर अदा पर उसका जैसे पहरा सा रहने लगा है
देखूं जब भी आईना मैं अक्स उसका मुझमें दिखने लगा है
रहती हूँ हर वक़्त बस उसके ही ख्यालों में और दिल भी अजब सा धड़कने लगा है

 

 

5. Beautiful Hindi Poem
तुम्हें पता है कौन हो तुम
मेरे जिंदगी की अनछुई परछाई हो तुम
समझता मैं भी अजनबी था तुझे,
मिला मुझे खुद का पता जब न था,
मिली जब पनाह तेरे प्यार की,
छोड़ हक़ीक़त सपनों में खो गया,
मिला तेरा साथ तो अपनों का हो गया,
बिताये हर एक पल ग़मों से दूर रहा मैं,
रहता जिस गुरुर में था मैं,
उससे दूर रहा मैं,
मुझे नहीं पता क्या सीखा तुमने मुझसे,
मगर इस दिल ने सीखा बहुत तुझसे,
सपनों की हक़ीक़त,
हक़ीक़त का टूटना,
ज़िन्दगी की सच्चाई,
और दिल का रूठना,
अब इससे ज़्यादा क्या बताये ये दिल
प्यार और इबादत की तालीम हो तुम
आज जाना मेरी अधूरी जिंदगी में मीठा सवाब हो तुम,
इस दिल की नहीं तुम,
ऊपर वाले की प्यारी रचना हो तुम,
ये तारीफ नहीं जुबां की,
बस वाक्या है मेरे दिल का,
रहे मेरे पास शायद वजह यही है मेरे सिर झुकाने की,
रहे तू हमेशा मेरी ज़रूरत नहीं मुझे ये बताने की,
यूं निगाहों से नहीं चाहा कभी तुझे,
ये दिल तुझपे निसार था,
ज़िन्दगी पर किसी का हक ये गवारा मुझे न था,
पर पाबंदिया उसूलों से अच्छी होंगी,
ये वक़्त से ज़्यादा तूने बताया था,
रहे उस सोने की तरह जो ढल जाता सांचे में,
रहूँ मैं उस साँचे जैसा ढले जिसकी आस में,
क्योंकि माँ तो नहीं मगर ज़िन्दगी की अंतिम सांस है तू,
आज हक़ीक़त को जाना,
ज़िन्दगी के हर किनारे का साथ है तू,
ये शब्द नहीं जज़्बात हैं मेरे,
वरना दिल-ए फ़क़ीर क्या जाने,
मेरी मुस्कान का राज़ है तू।

6. Hindi Poem For Love (बहुत समझाया है)
बहुत समझाया है मैने इस दिल को
पर अब ये मेरी सुनता नहीं
हर धड़कन में अब तुम हो बसे
कि ये सपना कोई बुनता नहीं
तुम अब मेरे नही हो सकते ये दिल भी जानता है
पर इस दिल का क्या कसूर ये तो तुझे ही खुदा मानता है
तुम कहते हो जीवन में आगे बढ़ो सब ठीक होगा
लेकिन तुम्हें भी पता है कि तुम्हारी तरह कोई मुझे समझ सकता नहीं
बहुत समझाया है मैने इस दिल को
पर अब ये मेरी सुनता नहीं
भले ही ऊपरवाले ने हमारी जोड़ी ना बनाई हो
लेकिन इस जीवन में कुछ पल ही सही तेरे होने का एहसास हुआ , इससे बड़ी क्या खुदाई हो
बस दुआ है यही रब से…….
जब जिंदगी दे तो तेरे साथ नही तो जिंदगी ना दें
बहुत समझाया है मैने इस दिल को
पर अब ये मेरी सुनता नही
ऐ मेरे हमदम मुझपर एक और एहसान कर
आखिरी ख्वाहिश है दिल की यही समझकर
मेरा दिल तो रौशन है बस तेरे ही होने से
इसलिए इस दिल में तुम कभी अंधेरा करना नही
बहुत समझाया है मैने इस दिल को
पर अब ये मेरी सुनता नहीं

 

7. Love Kavita in Hindi (प्यार ताकत है)
प्यार ताकत है खुदा की ये तू जानले
महोब्बत नूर है रूह का ये तू मानले
चल दिखा तेरी ताकत, ला आसमान जमीन पर
है जिगर में जज्बा, भेज कयामत को भी ऊपर
तो सारी कायनात है तेरी ये तू ठान ले
प्यार ताकत है खुदा की ये तू जानले
चिर-कौओ को खिला दे ऐसी लाश नही है तू
जिंदा होकर मर जाए ये एहसास नही है तू
चल उठ खड़ा हो, अंत नहीं है तू
इश्क़ की दुनिया का कोई संत नहीं है तू
तुझे लड़ना ही होगा ये तू ठान ले
प्यार ताकत है खुदा की ये तू जानले
कमजोर नहीं, बलवान है तू
चंद पलों का मेहमान है तू
खुद की जिंदगी का अरमान है तू
हर कयामत का सौदागर है तू
तू बस अपने आप को पहचनाले
प्यार ताकत है खुदा की ये तू जानले

 

8. Hindi Poem For Love (रात होते ही फलक पे सितारे जगमगाते हैं)
रात होते ही फलक पे सितारे जगमगाते हैं
वो चुपके से दबे पांव मुझसे मिलने आते हैं
याद रहे बस नाम उनका भूल के जमाने को
वो चुनरी को इस तरह मेरे चेहरे पे गिराते हैं
सौ गम और हज़ार ज़ख़्म हो चाहे
दुनिया के हर दर्द भूल जाये
कुछ इस तरह गुदगुदाते हैं
डूब जाये ये कायनात तो हम नाचीज़ क्या हैं
इतनी मोहब्बत वो दामन में भर के लाते हैं
तिश्नगी कम ना होने पाये चाहत की
मुझमे प्यास बढाकर मेरी फिर वो मय बन जाते हैं
सख़्त हिदायत है हमे खुद पे काबू रखने की
रोक के हमको मगर वो खुद ही बहक जाते हैं
बयां करने को दास्तान-ए-इश्क़ लब्ज़ ना मिलें वो
यूँ हक़ मुझपे जताते हैं कि ‘मौन’ कर जाते हैं

 

9. Hindi Prem Kavita (सदिया गुजर गयी किसी को अपना बनाने में)
सदिया गुजर गयी किसी को अपना बनाने में,
मगर एक पल भी न लगा उन्हें हमसे दूर जाने में…
लोगो की साजिशों का रंग उनपे ऐसा छाने लगा,
के उसके बाद तो हम उन्हें अपने दुश्मन नज़र आने लगे….
हम फिर भी हस्ते रहे उनके जुल्मों को सह कर भी,
धीरे धीरे उनके सितम सह कर हमें मजा आने लगा……..
जब थक गए हमारी रूह तक को तड़पा कर वों,
तब वो धीरे धीरे हमसे दूर जाने लगे……
ये गम तन्हाई दर्द और यादोँ के साये,
ये सब तोहफ़ा हमनें उनसें ही है पाए….
मेरी ग़लती सिर्फ़ इतनी सी थी के मैं वफ़ादार निकला,
जितने दिल से की उनकी मोहब्बत में उतना ही बड़ा गुन्हेगार निकला….

 

10. Beautiful Hindi Poem (जो तुमसे दूर चला गया हैं)
जो तुमसे दूर चला गया हैं, उसके लिए क्यों आँसू बहाना
जो अतीत का पन्ना हैं, उसके लिए क्यों अपना वर्तमान गवाना,
जो जब वो बेगाना हैं, उसके लिए क्यों खुद को दिन रात रुलाना,
पर अब वो किसी और के संग हैं, अब वो किसी और की दिल की उमंग हैं
तुम्हारी अच्छाई बहुत अच्छी लगती हैं,
तुम्हारी बुराई बहुत बुरी लगती हैं,
तुम्हारे सौ झूट के आगे हमें तुम्हारी एक बात सच्ची लगाती हैं.
तुम एक बार माफ़ी मांगो,
हम अपने आंसू भुला देते हैं,
दूसरी बार मांगो तो तुम्हारे संग चले आते हैं
हमारी खुद की बाते हमें गलत लगाती हैं,
तुम्हारी सौ गलत बातें भी आंखिर हमें अच्छी लगाती हैं,
तुमसे बिछड कर जीने के लिए जिंदगी कब तैयार हुई
सिर्फ़ जुदा होने के ख्याल से आँखे नाम हो जाती हैं.

 

11. Romantic Poem in Hindi, Hindi Poems on Love
जो कह ना पाई बात तुमसे, आज फिर कैसे कहूँ
होंठो पर ही है रखी, ज़ज़्बात तुमसे क्या कहूँ

वो पहली झलक, कमसिन अदा
वो झुकती पलक, गालों पर हया
तेरे दीदार का असर कुछ इस तरह मुझ पर हुआ
मुझमे मैं अब मैं नहीं, तू ही तू बस तू रहा

है दब गई जो बात दिल में, आज फिर कैसे कहूँ
खता दिल से हुई है दिल ही भुगते
इलज़ाम तुझपे क्या मढ दूँ

जो कह ना पाई बात तुमसे, आज फिर कैसे कहूँ
होंठो पर ही है रखी, ज़ज़्बात तुमसे क्या कहूँ

है तुम्हे इंकार फिर भी, मेरा दिल ही रखने को सही
समझ लेना जो भी कुछ बात तुमसे है कही
तेरी छाँव जब से है मिली, अब खौफ मुझको कुछ नहीं
बस साथ हो तेरा ही, तुम पर आस मेरी ये टिकी

है बहुत एहसास दिल में, चंद लफ़्ज़ों में क्या कहूँ
जो कह ना पाई बात तुमसे, आज फिर कैसे कहूँ
होंठो पर ही है रखी, ज़ज़्बात तुमसे क्या कहूँ

 

12. Heart Touching Poem in Hindi
सुनो… यूँ “चुप” से न रहा करो,
यूँ “खामोश” से जो हो जाते हो,
तो दिल को “वहम” सा हो जाता है,
कहीं “खफा” तो नही हो..??
कहीं “उदास” तो नही हो…??
तुम “बोलते” अच्छे लगते हो,
तुम “लड़ते” अच्छे लगते हो,
कभी “शरारत” से, कभी “गुस्से” से,
तुम “हँसते” अच्छे लगते हो,
सुनो… यूँ “चुप” से ना रहा करो।

 

13. प्रेम कविता Hindi Poems on Love
भरी भरी सी हैं ज़िन्दगी, भावो में बहने लगा हूँ
हाँ मैं तेरे प्यार में फिर से पड़ने लगा हूँ

सोचा रुक जाएगी ज़िन्दगी, जब उसने मेरे दिल को तोडा
लेकिन तूने आके मेरी ज़िन्दगी में इसका टुकड़ा टुकड़ा जोड़ा

सपने लेने छोड़ दिया था, लगा था तनहा सा रहने
अब तू मिली ज़िन्दगी में और तेरे सपने के सागर में लगा हूँ बहने

भरी भरी सी हैं ज़िन्दगी, भावो में बहने लगा हूँ….

चली गयी थी चेहरे की हंसी आने लगे थे दुःख
तुम मिली ज़िन्दगी में अब सच हैं सारे सुख

प्यार एक शब्दो का खेल हैं. ऐसा लगा था सबसे कहने
आज तो फिर से प्यार हो गया और लगा हूँ तेरे ख्वाबो में रहने

भरी भरी सी हैं ज़िन्दगी, भावो में बहने लगा हूँ….

Leave a Comment